Indian Sikh restaurants vandalize, vandals wrote hate slogans on walls; Goddess statue beheaded | भारतीय सिख के रेस्टोरेंट में तोड़फोड़, दीवारों पर नफरत फैलाने वाले नारे लिखे; भगवान की मूर्ति भी तोड़ी - Digitalarun.in

Indian Sikh restaurants vandalize, vandals wrote hate slogans on walls; Goddess statue beheaded | भारतीय सिख के रेस्टोरेंट में तोड़फोड़, दीवारों पर नफरत फैलाने वाले नारे लिखे; भगवान की मूर्ति भी तोड़ी

  • न्यू मैक्सिको शहर के सैंटा फे सिटी में कुछ लोगों ने इंडिया पैलेस रेस्टोरेंट में अचानक घुसकर तोड़फोड़ की
  • तोड़फोड़ से करीब 75 लाख का नुकसान होने की आशंका, पुलिस और फेडरल इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो (एफबीआई) जांच में जुटी

Subscribe Shiva IQ

Jun 24, 2020, 12:45 PM IST

वॉशिंगटन. न्यू मैक्सिको शहर की सैंटा फे सिटी में भारतीय के खिलाफ हेट क्राइम का मामला सामने आया। मंगलवार को यहां कुछ लोग इंडिया पैलेस रेस्टोरेंट में घुसे। तोड़फोड़ की। भगवान की मूर्ति तोड़ दी। बाद में दीवार पर नफरत फैलाने वाले नारे लिख दिए। 

रेस्टोरेंट के मालिक बलजीत सिंह के मुताबिक, किचेन और सर्विंग एरिया को काफी नुकसान पहुंचा है। बलजीत के मुताबिक, उन्हें 1 लाख डॉलर (करीब 75 लाख रु.) का नुकसान हुआ। लोकल पुलिस और फेडरल इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो (एफबीआई) घटना की जांच कर रही है। 

सिख संगठन ने चिंता जताई

अमेरिका में सिखों के संगठन ‘सिख अमेरिकन लीगल डिफेंस एंड एजूकेशन फंड (सालडेफ) ने घटना की निंदा की है। सालडेफ की एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर किरण कौर गिल ने कहा- इस तरह की नफरत और हिंसा ठीक नहीं है। सभी अमेरिकियों की सुरक्षा तय करने के लिए फौरन कार्रवाई की जानी चाहिए। सैंटा फे में रहने वाले सिख लोगों के मुताबिक- यह शांत इलाका है। यहां 1960 से सिख समुदाय के लोग रह रहे हैं। इस तरह की घटना पहले कभी नहीं हुई। 

29 अप्रैल को कोलोराडो में एक सिख पर हमला हुआ था

बीते दिनों सैंटा फे में अश्वेत समर्थकों ने स्पेनिश शासकों की मूर्तियां भी हटा दी थीं। इसके बाद से यहां हेट क्राइम बढ़ गया। 29 अप्रैल को कोलोराडो के लेकवुड में अमेरिकी सिख लखवंत सिंह पर एक व्यक्ति ने हमला किया था। उसने लखवंत को अपने देश लौट जाने को कहा। आरोपी का नाम एरिक ब्रीमैन बताया गया है। अब तक उसके खिलाफ हेट क्राइम का मामला दर्ज नहीं किया गया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *